RSS: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नए सरकार्यवाहक चुने गये Dattatreya Hosabale

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email
नमस्ते सदा वत्सले मातृभूमे त्वया हिन्दुभूमे सुखम् वर्धितोहम..
दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे अनुशासित समाजसेवी संगठन है राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जिसे संघ कह कर भी पुकारा जाता है. राष्ट्र को सर्वोपरि मानने वाले इस संघ में नए सरकार्यवाहक का चुनाव हुआ है और ये उत्तरदायित्व भैयाजी जोशी के उपरान्त अब दत्तात्रेय होसबोले के कन्धों पर होगा.

निर्विरोध चुने गए होसबोले

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के आचार में पूर्ण लोकतांत्रिक वातावरण है और कमाल ये है कि इसके उपरान्त भी इसके व्यवहार में पूर्ण अनुशासन है, लोकतांत्रिक भ्र्ष्टाचार और मनमानी के लिए यहां कोई स्थान नहीं है. यहां चुनाव के माध्यम से ही नेतृत्व का चयन होता है. नए सरकार्यवाहक का चयन भी इसी चुनावी प्रक्रिया के माध्यम से हुआ है और महत्वपूर्ण तथ्य ये है कि सदा की तरह ही यह चुनाव निर्विरोध रूप में सम्पन्न हुआ है और दत्तात्रेय होसबोले संघ के नए कार्यवाहक के पद पर निर्विरोध चुने गए.

12 वर्षों बाद हुआ नए पदाधिकारी का आगमन

RSS के नए सरकार्यवाह का आगमन लगभग बारह वर्ष बाद हुआ है. पिछले बारह वर्षों से भैयाजी जोशी इस महत्वपूर्ण उत्तरदायित्व को वहन कर रहे थे. दत्तात्रेय होसबले को संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक में नया सरकार्यवाह चुना गया है. और इस निर्विरोध चुनाव के अनन्तर ॐ की ध्वनि के साथ दत्तात्रेय होसबले के नाम पर संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा ने मुहर लगा दी.

कर्नाटक के हैं नए सरकार्यवाहक

कर्नाटक के शिमोगा नगर के रहने वाले हैं दत्तात्रेय होसबले. मात्र चौदह वर्ष की आयु में वर्ष 1968 में होसबोले आरएसएस से जुड़े और संघ की गतिविधियों में भाग लेते हुए उन्होंने अपना अध्ययन जारी रखा. बेंगलोर यूनिवर्सिटी से उन्होंने इंग्लिश में MA किया. और फिर दत्तात्रेय होसबले की योग्यता ने उन्हें अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का कर्नाटक प्रदेश का संगठन मंत्री की जिम्मेदारी प्रदान करवाई. तदनन्तर वे ABVP के राष्ट्रीय मंत्री और सह-संगठन मंत्री नियुक्त किये गए. करीब 2 दशकों तक विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय संगठन मंत्री के पद पर कार्य करने के बाद उनका चयन वर्ष 2002-03 में संघ के अखिल भारतीय सह बौद्धिक प्रमुख के रूप में किया गया. वर्ष 2009 से वे संघ के सह-सरकार्यवाह की भूमिका में थे.

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति