Saudi Arabia के इस सड़क में नहीं दिखेंगी कारें, नहीं होंगी सड़कें और रहेंगे दस लाख लोग

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email

रियाध. सऊदी अरब ने बता दिया है कि प्रगति किसे कहते हैं. धनाढ्य देशों में अग्रणी सऊदी अरब ने जेट युग के देशों को दिखा रहा है नई राह और बना रहा है एक ऐसा शहर जो कमाल होगा. इसमें न होगा किसी तरह का प्रदूषण और न दिखेंगी सड़कें और न होंगी कारण. और इसमें रहेंगे दस लाख लोग जो जियेंगे आधुनिकता से भरपूर स्वस्थ जीवन.

कार्बन उत्सर्जन नहीं होगा

सऊदी अरब (Saudi Arabia) के इस शहर का नाम कमाल सिटी रखना चाहिए क्योंकि इस शहर में कारें और सड़कें शब्द लोगों की ज़िंदगी का हिस्सा नहीं होंगे. यहां प्रदूषण भी नहीं होगा क्योंकि यहां यहां कार्बन उत्सर्जन भी शून्य होगा. यह शहर अभी कागज़ों पर है और आने वाले दिनों में ज़मीन पर होगा.

ये है फ्यूचर सिटी

जो शहर सऊदी अरब बना रहा है वह है दुनिया की पहली फ्यूचर सिटी जिसमें सऊदी अरब भविष्य के शहर वाली ज़िंदगी तलाश रहा है. इस कमाल सिटी की निगरानी देश के मुखिया अर्थात प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान कर रहे हैं. अभी से ही रियाध में बनने जा रहे इस शहर को गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में शामिल किया जा रहा है जो एक शून्य कारों, शून्य सड़कों और शून्य कार्बन उत्सर्जन वाले इकलौते शहर के रूप में सामने आने वाला है.

NEOM का नया प्रोजेक्ट ‘दी लाइन’

सऊदी अरब क्राउन प्रिंस ने अपने हालिया भाषण में इस अहम जानकारी को मीडिया के साथ साझा किया है. उन्होंने बताया कि सऊदी अरब ने अपने भविष्य के शहर नियोम (NEOM) में एक नई परियोजना ‘द लाइन’ के निर्माण की योजना तैयार की है. इस शहर को लेकर प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान (Mohammed bin Salman) इतने उत्साहित हैं कि वे व्यक्तिगत रूप से इसकी निगरानी में लगे हैं.

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति