Team India अब इस तरह पहुंचेगी World Test Championship के फाइनल में

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email
इंग्लैण्ड के विरुद्ध भारत की मौजूदा टेस्ट शृंखला भारत के लिए दुहरी चुनौती है. एक तो क्रिकेट के जन्मदाता इंग्लैन्ड को हरा कर टेस्ट क्रिकेट की दुनिया में भारत की धाक को कायम रखने की और दूसरी चुनौती है वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जाने की. आइये देखते हैं कि अब भारत किस तरह वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुँच सकता है.

आज की स्थिति है ये

चेन्नई में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में टीम इण्डिया ने इंग्लैंड को 317 रनों से पराजित कर दिया है. अब इस प्रकार ये चार मैचों की शृंखला 1-1 से बराबर हो गई है. अब टीम इंडिया इस विजय के साथ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की अंक तालिका में दूसरे पायदान पर पहुंच गई है और इंग्लैंड की टीम चौथे पायदान पर लुढ़क गई है. ख़ास बात ये है कि आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने की दृष्टि से से यह सीरीज बहुत अहम है और इसके परिणाम पर ही दूसरे फाइनलिस्ट का चुनाव निर्भर करता है.

भारत आ गया है न्यूज़ीलैंड के निकट

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की अंक तालिका को देख कर आज स्थिति ये है कि 69.7 प्रतिशत अंकों के साथ भारत दूसरे स्थान पर आ गया है और न्यूजीलैंड 70.0 अंकों के साथ है सबसे पहले और सबसे ऊपर. ऑस्ट्रेलिया है तीसरे पायदान पर 69.2 अंकों के साथ और इंग्लैंड 67.0 अंक लेकर चौथे नंबर पर नज़र आ रहा है.

ये है फाइनल में पहुंचने का गणित

अंग्रेजों के विरुद्ध टीम इण्डिया यदि चार मैचों की इस टेस्ट सीरीज को किसी भी अन्तर के साथ जीत लेती है तो वह आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में अपना स्थान बना लेगी और पहली वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का मैडल अपने नाम करने के लिए न्यूजीलैंड से भिड़ेगी.

इंग्लैंड की राह आसान नहीं

इंग्लैंड यदि WTC के फाइनल में जाने का इच्छुक है तो उसे भारत के विरुद्ध सीरीज 3-1 से जीतनी होगी. यद्यपि यह आसान नहीं है क्योंकि पिछले 37 वर्षों से ऐसा नहीं हो पाया अर्थात कोई भी विदेशी टीम भारत में एक सीरीज में तीन टेस्ट जीतने में सफल नहीं रही है. वर्ष 1983-84 में अंतिम बार वेस्टइंडीज ने में छह मैचों की शृंखला को 3-0 से अपने नाम किया था.

ये है पूरा मामला

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल की राह का पूरा मामला अर्थात पूरा गणित अब काफी साफ़ हो गया है. अगर दोनों टीमों के बीच 4 टेस्ट मैचों की शृंखला ड्रॉ हो जाती है तो ऑस्ट्रेलिया की टीम चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंच जाएगी. यदि इंग्लैंड की टीम 2-1 से भी जीतती है तो भी ये उनके लिए फायदेमंद नहीं है बल्कि इससे कंगारू टीम का फाइनल में पहुंचना पक्का हो जाएगा. इस दृष्टि से इंग्लैंड टीम के लिए विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचना असम्भव नहीं तो आसान बिलकुल नहीं है.

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति