जानना जरूरी है: बिना पैनकार्ड के नहीं हो सकेंगे ये जरूरी काम, 10 मिनट में बन जाएगा ई-पैन

Share on facebook
Share on twitter
Share on google
Share on pinterest
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email

पैन कार्ड (PAN CARD) आपके फाइनेंशियल स्टेटस का सबूत होता है. 10 डिजिट का परमानेंट अकाउंट नंबर कई जगह काम आता है. किसी भी फाइनेंशियल या बैंकिंग मामले में सबसे पहले पैन कार्ड मांगा जाता है. पैन कार्ड की अहमियत और जरूरत को देखते हुए सरकार ने ऐसी व्यवस्था की है जिससे किसी का काम बिना पैन कार्ड के न रुके. इसके लिए अब घर बैठे ही केवल 10 मिनट में पैन कार्ड बनाया जा सकता है. आप आसानी से पैन कार्ड घर में ही प्राप्त कर सकते हैं.

लेकिन उससे पहले आइए ये जानते हैं कि पैन कार्ड का इस्तेमाल कहां कहां जरूरी है.

  • इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए पैन कार्ड जरूरी होता है. लेकिन इसका आधार कार्ड से लिंक होना अनिवार्य है.
  • बैंक में अकाउंट खोलने के लिए पैन कार्ड की जरूरत पड़ती है.
  • 5 लाख रुपये या  इससे ज्यादा की अचल  संपत्ति खरीदने पर पैन  कार्ड की जरूरत पड़ती  है
  • बैंक या पोस्ट ऑफिस के सेविंग अकाउंट में 50 हज़ार से ज्यादा कैश जमा करने पर पैन कार्ड अनिवार्य है.
  • क्रेडिट और डेबिट कार्ड के आवेदन के लिए पैन कार्ड देना जरूरी होता है
  • होटल और रेस्टोरेंट में 25 हज़ार से ऊपर बिल देने पर पैन कार्ड जरूरी है
  • 1 लाख से ऊपर की  खरीदारी पर पैन कार्ड  अनिवार्य है
  • 50 हज़ार रुपये से  ऊपर की प्रीमियम जमा  करने के लिए पैन नंबर  देना जरूरी है.
  • किसी कंपनी के शेयर्स खरीदने या स्टॉक ब्रोकर का काम करने के लिए पैन कार्ड जरूरी है. 50 हज़ार से ऊपर के लेन-देन के लिए जरूरी है पैन कार्ड. साथ ही कंपनी के डिबेंचर और बॉन्ड खरीदने के लिए पैन कार्ड की जानकारी दी जाती है.
  • 1 लाख रुपये से  ज्यादा के फिक्स डिपॉज़िट  या म्यूचुअल फंड्स खरीदने  पर पैन की जानकारी अनिवार्य  है.

कैसे बनवाएं तत्काल पैन कार्ड?

अगर आपके पास पैन कार्ड नहीं है तो आप इंस्टेंट पैन कार्ड बनवा सकते हैं. केवल 10 मिनट में आपका ई-पैन कार्ड बन कर तैयार हो सकता है. बस इसके लिए आपको ये काम करना पड़ेगा.

ई-फाइलिंग पोर्टल पर जाकर ‘Instant PAN through Aadhaar’ पर क्लिक करें.

  • इसके बाद ‘Get New PAN’ के ऑप्शन पर क्लिक करें.
  • आपसे आधार नंबर पूछा जाएगा और रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक OTP आएगा.
  • मोबाइल नंबर पर आए OTP को जरूरी बॉक्स में भरने के बाद वैलिडेशन किया जाएगा
  • इसके बाद आपको e-PAN जारी कर दिया जायेगा.

कैसे करें ई-पैन डाउनलोड?

इंस्टेंट पैन कार्ड का आवेदन करते समय रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आयकर विभाग की तरफ से 15 डिजिट का एक नंबर भेजा जाता है. इस नंबर की मदद से e-PAN डाउनलोड किया जा सकता है. आवेदक की ई-मेल आईडी पर भी इसकी एक प्रति भेजी जाती है. लेकिन इसके लिए आधार में ई-मेल आईडी रजिस्टर्ड होनी चाहिए. इंस्टैंट पैन फैसिलिटी (Instant PAN Facility) के तहत आपको कोई फॉर्म नहीं भरना होता है. आपके आधार से ही पैन कार्ड के लिए आवश्यक जानकारी हासिल कर ली जाती है जिससे आधार कार्ड और पैन कार्ड आपस में लिंक हो जाते हैं.

ट्रेंडिंग

काम की खबरें

देश

विदेश

मनोरंजन

राजनीति